ओमीक्रॉन अपडेट: देश में तेज़ी से बढ़ रहा है वायरस का कहर, 18 राज्यों तक पहुंचा ओमिक्रोन, अब तक 442 लोग हुए संक्रमित, जानें किन राज्यों में मिले कितने नए मामले ?

ओमीक्रॉन अपडेट

ओमीक्रॉन की चपेट में पूरा भारत। 

देश में ओमिक्रोन के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। रविवार को आंध्र प्रदेश में ओमिक्रोन के दो, हिमाचल प्रदेश में एक, ओडिशा में चार और मध्‍य प्रदेश में आठ मामले दर्ज किए गए।

इसके साथ ही देश में ओमिक्रोन के संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े चार सौ के करीब पहुंच गया है। समाचार एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक हिमाचल प्रदेश में ओमिक्रोन का पहला केस दर्ज किया गया है।

Read More

देश के 18 राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना का यह वैरिएंट पहुंच गया है। इसके सर्वाधिक 108 मामले महाराष्ट्र में आए हैं। जानें किस राज्‍य में अब तक कितने मामले पाए गए हैं।

ओमिक्रोन के कहां कितने मामले

महाराष्‍ट्र-108

दिल्ली-79

गुजरात-43

तेलंगाना-41

केरल-38

कर्नाटक-38

तमिलनाडु-34

राजस्‍थान-22

मध्‍य प्रदेश-8

ओडिशा-8

पश्चिम बंगाल-6

हरियाणा-4

आंध्र प्रदेश-4

जम्‍मू-कश्‍मीर-3

उत्‍तर प्रदेश-2

चंडीगढ-1

लद्दाख-1

उत्‍तराखंड-1

हिमाचल प्रदेश-1

कुल-442

कोरोना के 6,987 नए मामले

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 6,987 नए मामले सामने आए हैं जबकि इस दौरान 162 मरीजों की संक्रमण से मौत हो गई है।

इसके साथ ही देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 3,47,86,802 हो गया है जबकि मृतकों की संख्या बढ़कर 4,79,682 हो गई है।

राहत की बात यह है कि बीते 59 दिनों से कोरोना संक्रमण के दैनिक मामले 15 हजार से कम ही रहे हैं।

मौजूदा वक्‍त में रिकवरी रेट बढ़कर 98.40 प्रतिशत हो गई है जो मार्च 2020 के बाद से सबसे अधिक है। देश में एक्टिव केस कम होकर 76,766 रह गए हैं।

केंद्र सरकार ने भेजी इन राज्यों में टीमें। 

ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 10 राज्यों केरल, महाराष्ट्र, बिहार, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, बंगाल, मिजोरम, कर्नाटक, झारखंड और पंजाब में केंद्रीय टीमें तैनात की हैं।

ये टीमें राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ मिलकर ट्रेसिंग-ट्रैकिंग के क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देंगी। ये टीमें स्थिति का आकलन करेंगी, उपचारात्मक कार्रवाई का सुझाव देंगी। इन्‍हें केंद्र को एक रिपोर्ट देनी होगी।

इन्‍हें कोविड उपयुक्त व्यवहार लागू कराने, स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं और टीकाकरण प्रगति पर भी ध्यान देना होगा।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से की अपील। 

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रेडियो पर अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में कहा कि ओमिक्रोन के खिलाफ लड़ाई में खुद की सजगता और अनुशासन ही बड़ी ताकत हैं।

हमारे वैज्ञानिक ओमिक्रोन का अध्ययन कर रहे हैं। उन्हें हर रोज नए आंकड़े मिल रहे हैं। वैज्ञानिकों के सुझावों के आधार पर कदम उठाए जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मौजूदा वक्‍त में हमारी सामूहिक ताकत ही कोरोना को हराएगी। हमें जिम्मेदारी की इसी भावना के साथ नए साल 2022 में प्रवेश करना होगा।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *